एक ऐसा परिवार जिसका भर गया घर घड़ियों से वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया ?

एक ऐसा परिवार जिसका भर गया घर घड़ियों से वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया ?


इस परिवार को है नायाब शौक घड़ियो को जमा करने का इंसान के जीवन में समय बहुत महत्व है ,इसलिए घड़ी भी सभी के लिए महत्वपूर्ण हो जाती है। आज हम आपको ऐसे ही परिवार के साथ मिलाने जा रहे है जिसे जुनून की हद तक घड़ियों को जमा करने का शौक है। ये है इंदौर के भल्ला परिवार। आपको जानकर बेहद आश्चर्य होगा कि ये परिवार 5 पीढियों से घड़ियो को जमा करने का नायाब कलेक्शन कर रहा है । सिर्फ सहेज ही नही रह बल्कि इन घड़ियों का अच्छी तरह से रख रखाव भी कर रहा है । ख़ास बात यह है की अब तो इस परिवार के लोग घड़ियों की टिक टिक की भाषा समझने लगें है । घड़ियों के नायाब कलेक्शन के चलते परिवार का नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हो चुका है । आमतौर पर सभी के घर मे देखा होगा सिर्फ एक ही घड़ी नजर आती है , लेकिन इंदौर के भल्ला के घर मे ऐसा कोई कोना बचा नही होगा जहां पर घड़ी नजर ना आये । इस परिवार के घर मे हर दीवार पे घड़ियां ही घड़ियां देखने को मिलेंगी । इस घर मे जाते ही आपको ऐसा लगेगा कि कोई घड़ी की दुकान या शोरूम में आ गए हो। देश बिदेश की ऐसी नायब घड़ियां इस घर के अलावा आपको और कहि देखने को नही मिलेगा। भल्ला परिवार के पास जो कलेक्शन है उसमे फ़्रांस के सबसे पुरानी घड़ी से लेकर इंग्लैंड,जर्मनी, स्विट्जरलैंड, अमेरिका सहित अन्य देशों और भारत की कई प्राचीनतम घड़ियों का नायाब कलेक्शन है। इस पूरे कलेक्शन की एक और खास बात है कि ये सारी घड़ियां बिना सेल् की चलती है यानी ये इलेक्ट्रॉनिक घड़ियां नही है ।  ये घड़ी पूरी तरह से मैन्यूवल है और चाबी के जरिये ही चलती है । भल्ला के घर मे एक टावर क्लॉक भी है जिसमे 270 किलो का एक वेल भी लगा है जो 1875 में इंग्लैंड से लाया गया था। इन घडियों में 1865 की जर्मन में गोल्ड वर्क और पर्ल मोती से बनी एक मात्र घड़ी 12  फिट की घड़ी साइलेंट घड़ी जैसी कई नायब घड़िया भी है। 

Post a Comment

0 Comments