अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न


बासिम हिलाल नाम के शख्स ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का किया समर्थन, जवानों के बलिदान होने पर जश्न मनाया।
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न

आज कल देश का फर्जी सेकुलरिज्म फिर फुस्स हो गया, इस देश में सेकुलरिज्म ही सबसे बड़ा घोटाला है, और सेकुलरिज्म के कारण ही देश के हर हिस्से में आज छोटे छोटे पाकिस्तान बन गया है।

और इन गद्दारों के सबसे बड़े साथी अपने देश के नेता, सेक्युलर बुद्धिजीवी, सेक्युलर पत्रकार और हर सेक्युलर शख्स है, ये सभी के सभी भारत को बर्बाद करने पे उतावले है।

जिस आदमी की तस्वीर आप ऊपर देख रहे है,वो हमें नही लगता वो इंसान है।  इसका नाम है बासिम बिलाल और ये उत्तर प्रदेश स्थित अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्र है।
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न

आज जैश-ए-मोहम्मद नाम के इस्लामिक संगठन के कायराना IED हमले में 42 जवान बलिदानी हुए है और अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का ये छात्र जवानों के बलिदान होने पर जश्न मना रहा है, आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का समर्थन कर रहा है।
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न

इस्लामिक संगठन जैश-ए-मोहम्मद का ये समर्थन कर रहा है,और बहुत खुश है की हमारे 40 से ज्यादा जवान बलिदानी हो गए।
इस शख्स के खिलाफ अलीगढ में पुलिस शिकायत भी लिखी जा चुकी है।
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न
अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र ने 40 CRPF जवानों के बलिदान पर मनाया खुलकर जश्न

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी आतंकवादियों का अड्डा बन गया है,पर देश का हर सेकुलर इस आतंकवाद के गढ़ का समर्थन करती है, और अभी पिछले ही दिनों 14 के खिलाफ योगी सरकार ने मामला दर्ज किया था तो देश के तमाम सेक्युलर योगी सरकार के खिलाफ शोर मचा रहे थे।

Post a Comment

0 Comments