आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान रविवार को ट्वीट कर कश्मीर के मामले में दखलअंदाजी की है. शनिवार को पुलवामा में आतंकवादियों के एनकाउंटर के बाद बवाल मचा था। सुरक्षा बलों पर हुए हमले का जवाब सेना ने दिया. इसमें सात लोगों की मौत हो गई. अब इस मसले पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने भारत सरकार को घेरा है. इमरान खान का बयान आते ही लोगों ने उन पर सोशल मीडिया पर हमले शुरू कर दिए.
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान शनिवार को हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर जहूर ठोकेर के मारे जाने के बाद बिलबिला उठे हैं। पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद पर जिस प्रकार से भारतीय सेना व सुरक्षा बलों ने ऑपरेशन ऑलआउट चलाया है। इससे पूरा पाकिस्तान हिला हुआ है। पाकिस्तान में शरण लिए आतंकी संगठन के आकाओं की परेशानी बढ़ी हुई है। जैसे ही वे किसी को अपने संगठन का कमांडर बनाकर कश्मीर घाटी में खड़ा करते हैं, भारतीय सुरक्षा बल उन्हें निशाने पर ले लेती है। खुफिया इनपुट लिए जाने शुरू हो जाते हैं और खासकर कमांडरों को ढेर करने में सुरक्षा बलों ने हाल के दिनों में जबर्दस्त कामयाबी हासिल की है। इसका असर आतंक की ओर कदम उठाने वाले युवाओं के मनोबल पर पड़ा है।

पुलवामा एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने हिजबुल कमांडर जहूर ठोकेर को मार गिराया है.
पाकिस्तान में पल रहे आतंक के आकाओं के नापाक मंसूबे जब नाकामयाब होने लगे हैं तो पाकिस्तान के मुखिया का बिलबिलाना लाजिमी था। दरअसल, दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में शनिवार को सेना ने हिजबुल कमांड जहूर ठोकेर समेत तीन आतंकियों को मार गिराया। इसके बाद घाटी में हिंसा भड़क उठी, जिसमें सात नागरिकों की मौत हो गई, जबकि एक जवान शहीद हो गया। ठोकेर सेना से भागकर आतंकी बना था। अफसरों ने बताया कि खुफिया जानकारी मिली थी कि पुलवामा के सिर्नू गांव में ठोकेर समेत तीन आतंकी छिपे हुए हैं। इसके बाद इलाके की घेराबंदी की गई। जैसे ही ठोकेर के मुठभेड़ में फंसे होने की खबरें फैलीं, लोगों का जमावड़ा होने लगा।

सुरक्षा बलों से हथियार छीनने की कोशिश कर रहे थे पत्थरबाज, फिर चलाई गई गोली.

जहूर ठोकेर इसी गांव का था, इसलिए तनाव बढ़ गया और लोग सेना पर हमले करने लगे। कुछ ने सुरक्षाबलों से हथियार छीनने की भी कोशिश की।

इसके बाद उन्हें भीड़ पर गोलियां चलानी पड़ी, क्योंकि लोग खतरनाक रूप से सुरक्षाबलों के बहुत करीब आ गए थे। घायलों को अस्पताल ले जाया गया जहां सात नागरिकों की दुर्भाग्यवश मौत हो गई। पत्थर फेंकने वाली भीड़ में भी शामिल लोगों को गोली लगी। मारे गए अन्य दो आतंकियों की पहचान करीमाबाद के अदनान हमीद और राजपोरा के बिलाल अहमद के तौर पर की गई है। सेना ने पहले ही साफ कर दिया है कि आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान लोग दूर रहें। इसके बाद भी कश्मीर में जिन लोगों की मौत हुई है, उसके वजह की जांच चल रही है। आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई को पाकिस्तान किस प्रकार गलत साबित करने पर तुला है, यह देखने वाली बात है।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस मामले में दी है दखल.
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात
आतंकियों की मौत पर घबराया इमरान खान, भारतीय सेना के बारे में कह दी ये बड़ी बात

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर बेवजह भारत के अंदरूनी मसले में दखल दिया है। इमरान खान ने कहा है कि कश्मीर में हुई भारतीय सेना की कार्रवाई की कड़ी निंदा करते हैं। कश्मीर में केवल संवाद से ही समस्या का समाधान है। हिंसा व हत्या इस समस्या का समाधान नहीं हो सकती। इस संघर्ष को रोका नहीं जा सकता है। हम संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के मामले को उठाएंगे और मांग करेंगे कि संयुक्त राष्ट्र जम्मू कश्मीर के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करे। इमरान खान के ट्वीट पर सोशल मीडिया में बवाल मचा। लोगों ने पूछा कि क्या पाकिस्तान मान रहा है कि कश्मीर घाटी में जो कुछ हो रहा है, उसके पीछे वही है।