breaking news after Pakistan surrendered after Pakistan's proceedings and Imran Khan would know what to say

breaking news भारत के कार्यवाही के बाद पाकिस्तान ने सरेंडर कर दिया और इमरान खान क्या बोले जानेंगे तो भोत हसेंगे
breaking news भारत के कार्यवाही के बाद पाकिस्तान ने सरेंडर कर दिया और इमरान खान क्या बोले जानेंगे तो भोत हसेंगे 

पाकिस्तानी फाइटर प्लेन द्वारा भारतीय सिमा के अंदर हमला करने के बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए उन्हें वापस लौटने को मजबूर कर दिया।और एक फाइटर प्लेन को  गिराया।  पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर भारत की एयर स्ट्राइक के जवाब में पाकिस्तान ने यह हरकत आज सुबह की। एयर स्ट्राइक के बाद से भारत को करारा जवाब देने की बात करने वाले पाकिस्तान ने आज की कार्रवाई के बाद फिर शांति का राग अलापा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि युद्ध से किसी भी पक्ष को लाभ नहीं होने वाला है इसलिए इस मुद्दे को शांतिपूर्वक वार्ता करके सुलझाना होगा। 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा, 'पुलवामा में हुए हमले के बाद हमने भारत के सामने शांति रखने की अपील की थी। इमरान खान ने भारत के सामने प्रस्ताव रखा था और हम इस मामले की जांच करेंगे और कार्यवाही करेंगे । हम पहले भी सहयोग के लिए तैयार खड़े थे और अब भी तैयार खड़े हैं।  मैंने भारत को आक्रामकता दिखाने के खिलाफ चेताया था। क्युकी मुझे डर था कि भारत कोई कार्रवाई जरूर करेगा।

'स्थितियां बिगड़ीं तो न मोदी संभाल पाएंगे न मैं


इमरान खान ने कहा यदि आप हमारे देश में जबरन घुस सकते हैं तो हम भी ऐसा करने में सक्षम हैं। हमारी कार्रवाई सिर्फ यह संदेश देने के लिए थी न कि युद्ध करने या नुकसान करने के लिए खान ने आगे कहा,युद्ध करना सही नहीं है और  और अगर यूद्ध हुआ तो कोई नहीं जानता की ये यूद्ध कहा तक जायेगा और  तलक जारी रहेगा पहले विश्वयुद्ध को कुछ हफ्तों में खत्म हो जाना था लेकिन इसे समाप्त होने में छह साल लग गए, इसी तरह आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को 17 साल तक नहीं चलना चाहिए था।


इमरान ने कहा, 'मैं भारत से पूछता हूं,

इमरान ने कहा, 'मैं भारत से पूछता हूं,जो हथियार हमारे पास हैं वो हथियार आपके पास हैं, क्या हम गलती को हम बर्दाश्त कर लेंगे ? हम उस दर्द को समझते हैं जो पुलवामा में आपके crpf के साथ हुआ। यदि स्थितियां बिगड़ती हैं तो यह न मेरे नियंत्रण में नही रहेगा और न ही मोदी के हाथ में ।  और लास्ट में इमरान खान ने कहा, आइए हम लोग साथ में बैठकर इस बिसय में बात करते हैं और इस मामले को सुलझाते हैं। और हम जांच व सहयोग के लिए भी तैयार हैं।