Thursday, March 7, 2019

breaking news एक अफवाह से मेरठ में भड़की हिंसा, 100 से ज्यादा झुग्गियां फूंकी!

उत्तर प्रदेश के मेरठ सदर का वह स्थान है जहाँ कभी एक बस्ती हुआ करती थी लेकिन अब यह राख, धुएँ

breaking news एक अफवाह से मेरठ में भड़की हिंसा, 100 से ज्यादा झुग्गियां फूंकी!
breaking news एक अफवाह से मेरठ में भड़की हिंसा, 100 से ज्यादा झुग्गियां फूंकी!

यह उत्तर प्रदेश के मेरठ सदर का वह स्थान है जहाँ कभी एक बस्ती हुआ करती थी लेकिन अब यह राख, धुएँ और जले हुए समान पड़े है।अब पूरी तरह से जलकर साफ हो गई है। एक अफवाह के चलते उनसे सब कुछ छीन लिया।
It is the place of Uttar Pradesh's Meerut Sadar that used to be a colony but now it is similar to ashes, smoke and burn. It is now completely cleaned up. Due to a rumor, they took away everything.



दरअसल, मेरठ कैंट के सदर इलाके की झुग्गी में कैंट बोर्ड की पुलिस टीम के साथ अवैध निर्माण को हटाया जाना था। फिर यह अफवाह फैल गया कि बोर्ड और पुलिस की टीम अवैध वसूली के उद्देश्य से पहुंची।
In fact, illegal construction was to be removed with the police team of the Cantt Board in the slum of Sadar area of Meerut Cantt. Then the rumor spread that the board and police team reached for the purpose of illegal recovery.

फिर, क्या था इलाके के लोगों और पुलिस के बीच क्या झाडप शुरू हुआ। बात इतनी बिगड़ गई कि लोगों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इलाके के लोगों का यह भी आरोप है कि पुलिस टीम ने इलाके में ही आग लगा दी।
Then, what was the start of the meeting between the people of the area and the police? The thing got so worn that people started stone pelting on the police. After which the police had to lathi charge. The people of the area are also accused that the police team set fire to the area.



झोपड़पट्टी में मौजूद गैस सिलेंडर भी था तो आग और भयंकर  तांडव मचाया और देखते ही देखते लगभग 100 झोपड़ियां जलकर खाक हो गईं। आग पर काबू पाने के लिए आसपास के जिलों से फायर ब्रिगेड की मदद ली गई। घंटों बाद आग पर काबू पा लिया  गया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी।
If there was a gas cylinder present in the slum, then there was a fire and a terrible mess, and at least 100 huts were burnt down after seeing it. The fire brigade was taken from the surrounding districts to overcome the fire. After hours, the fire was over, but it was too late till then.

एक धार्मिक स्थल सहित कई झुग्गियां आग में जल के चपेट में आ गईं। गुस्साई भीड़ सड़कों पर पहुंच गई और सड़क को जाम कर दिया, भीड़ ने कई वाहनों को अपना शिकार बनाया। मामले की गंभीरता को देखते हुए आसपास के इलाकों से पुलिस बल को बुलाया गया और तैनात किया गया। एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची।
Several slums, including a religious place, were caught in the fire in the fire. The angry crowd reached the streets and jammed the road; the crowd made many vehicles of their victims. Given the seriousness of the matter, the police force was called and deployed from the surrounding areas. The NDRF team also reached the spot.



इस घटना में पुलिस सहित कई स्थानीय लोग घायल हुए हैं। आरोप यह भी है कि पुलिस के हथियार और वायरलेस भी छीन ली गईं। मामले की जांच की जा रही है कि आखिर आग   कैसे लगी। लेकिन इसके मद्देनजर प्रशासन ने स्थानीय इंटरनेट सेवा को कुछ समय के लिए बंद रखा है।
Many locals including the police were injured in this incident. There is also the allegation that the weapons and wireless of the police were also snatched. The matter is being investigated as to why the fire started. But in view of this, the administration has shut down the local internet service for some time.

जिस मकान को तोड़ने पुलिस आयी थी उसे खरोच भी नहीं आ लेकिन आसपास की सभी झुग्गियां जलकर खाक हो गईं। फिलहाल पुलिस इस मामले में कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।
The house which the police had been trying to break was not really scared, but all the slums surrounding it were completely burnt down. At present, the police are taking several people into custody and are interrogating the case.

SHARE THIS

Author:

Hello friends My name is Vishal Kumar and I am very interested in history and mystery and I am 24 years old and I started blogging since 2018 and after that I took knowledge about every mystery and I wondered why Also, the information about every mystery is misery, and then I created blogs in Hindi and English, and then convey information through this to you. I am thinking that everyone knows about the mystery, the world's story, all about Hindi and English and you know all about every secret and everything.

0 comments: