जब मुलायम सिंह यादव ने कारसेवकों पर चलवाई थी गोली,

जब मुलायम सिंह यादव ने कारसेवकों पर चलवाई थी गोली,

जब मुलायम सिंह यादव ने कारसेवकों पर चलवाई थी गोली, पल भर में लग गया था लाशों का ढेर

जब मुलायम सिंह यादव ने कारसेवकों पर चलवाई थी गोली
जब मुलायम सिंह यादव ने कारसेवकों पर चलवाई थी गोली

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी ( Samajwadi Party ) के संरक्षक और मैनपुरी से प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव ( Mulayam Singh Yadav ) की तबियत बिगड़ने के बाद शुक्रवार को उन्हें संजय गांधी पीजीआई ( PGI ) में भर्ती कराया गया है। यहां पर उनका इलाज चल रहा है। आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव की नाक से खून आने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया इसके बाद सभी जरूरी चेकअप करके उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी। मुलायम सिंह यादव ने कुछ साल पहले अयोध्या ( Ayodhya ) में हुए गोलीकांड को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा किया था जिसने सभी के होश उड़ा दिए थे।

अगर आप लोग अयोध्या मामले से वाकिफ हैं तो आप सभी को अयोध्या गोलीकांड भी याद होगा। वो दिन था 30 अक्टूबर साल 1990 जब अयोध्या में कारसेवकों की भीड़ इकट्ठा हो गयी। ये भीड़ लगातार बेकाबू हो रही थी। इस भीड़ को काबू करने में पुलिस और प्रशासन के पसीने छूटने लगे थे तभी अचानक भीड़ पर गोलियां बरसने लगती हैं जिसमें कई लोगों की जान चली गयी। इस घटना को ही गोलीकांड के नाम से जाना जाता है।

जिस समय यह घटना हुई उस समय मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) के मुख्यमंत्री थे। मुलायम सिंह ने इस घटना के 23 साल बाद खुलासा किया था कि आखिर उन्होंने कार सेवकों पर गोली क्यों चलवाई थी। मुलायम ने बताया था कि उस समय मेरे सामने मंदिर-मस्जिद और देश की एकता का सवाल था। आगे उन्होंने बताया कि बीजेपी वालों ने अयोध्या में 11 लाख कारसेवकों की भीड़ इकठ्ठा कर दी।

यह भीड़ लगातार बेकाबू होती जा रही थी जिसे कंट्रोल करना मुश्किल होता जा रहा था ऐसे में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए मुलायम सिंह यादव ने पुलिस को उनपर गोली चलाने का आदेश दे दिया। इस गोलीबारी में 28 लोगों की मौत हो गयी थी। आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव ने इस खुलासे के दौरान कहा था कि उन्होंने देश की एकता के लिए अयोध्या में गोली चलवाई थी। अगर गोली नहीं चलती तो मुसलमानों का देश से विश्वास उठ जाता। उन्होंने कहा था कि गोली चलने का अफसोस उन्हें है मगर देश की एकता के लिए और जानें भी जातीं तो भी वो पीछे नहीं हटते।

Post a Comment

0 Comments